उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों के व्यावसायिक वाहनों के लिए आॅन लाइन टैक्स जमा करने की सुविधा

कर संग्रह केन्द्र समाप्त, ट़ांसपोर्टर एवं पर्यटकों को अब परिवहन कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं

उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों से आने वाले व्यावसायिक वाहनांें का टैक्स अब आॅन लाइन जमा किया जा सकेगा। अभी तक यह टैक्स राज्य की सीमाओं पर स्थित विभिन्न कर संग्रह केंद्रों पर जमा किया जाता था। सीमाओं पर बने इन कर संग्रह केन्द्रों को समाप्त कर दिया गया है। इसके लिए एनआईसी के माध्यम से एक वेब साइट https://vahan .up. nic. in/upcheckpost तैयार कराई गई जो , स्टेट बैंक आफ इंडिया के पेमेंट गेटवे के साथ इंटरलिंक है।
नई दिल्ली के उत्तर प्रदेश सदन में आज प्रदेश के परिवहन मंत्री राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने आयोजित एक बैठक में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आॅन लाइन टैक्स जमा करने के लिए अन्य राज्यों के ट़ांसपोर्टरों को पर्यटन कार्यालय में आने की आवश्यकता नहीं है। देश के किसी भी स्थान से आॅन लाइन भुगतान करने पर धनराशि एस.बी.आई.,लखनऊ की वाणिज्यिक शाखा में जमा हो जाएगी जो बाद में लखनऊ कोषागार को हस्तांतरित हो जाएगी। टैक्स प्रतिदिन चैबीस घंटे किसी भी समय कहीं से भी जमा किया जा सकता है।
बैठक में प्रमुख सचिव परिवहन बी.एस. भुल्लर ने बताया कि यात्रा प्रारम्भ करने से पूर्व टूरिस्ट आपरेटर टैक्स जमा कर सकते हैं और इस प्रकार पर्यटकों को परिवहन कार्यालय में लाइन में टैक्स जमा करने के दौरान होने वाले विलम्ब तथा प्रतीक्षा से बचाया जा सकता है। इस व्यवस्था के लागू होने से परिवहन विभाग के दर्जनों कर्मचारियों को दूसरे कार्याें में लगाने का अवसर प्राप्त होगा, जिससे विभागीय कार्यकुशलता भी बढ़ेगी। यह प्रक्रिया पूर्णतः पारदर्शी है। जिसमें सम्पूर्ण सूचनाएं इण्टरनेट पर उपलब्ध होंगी। जब भी कोई व्यक्ति चाहे अपने अदा किए हुए टैक्स की जानकारी प्राप्त कर सकता है।
बैठक में परिवहन सचिव आलोक कुमार ने बताया कि इस सुविधा द्वारा अन्य राज्यों के व्यवसायिक वाहन एवं एनसीआर समझौते के अन्र्तगत केवल एनसीआर क्षेत्र में चलने हेतु जारी ठेका परमिट से आच्छादित वाहन लाभ उठा सकते हैं। इस वेबसाइट के द्वारा आॅन लाइन टैक्स इण्टरबैंकिंग के माध्यम से जमा किया जा सकता है। आॅन लाइन टैक्स जमा करने के लिए स्टेट बैंक में खाता होना अनिवार्य होगा। एनसीआर में अब इस नई व्यवस्था के लागू होने के बाद वाहनों का टैक्स तभी जमा हो पाएगा जब वाहन स्वामी अपने वाहन एवं एनसीआर ठेका परमिट की डैटा इंन्ट़ी  एनसीआर क्षेत्र में स्थित उत्तर प्रदेश के परिवहन कार्यालयों, संभागीय परिवहन कार्यालय, गाजियाबाद, मेरठ तथा उप संभागीय परिवहन, गौतमबुद्वनगर, बागपत तथा बुलन्दशहर में से किसी एक कार्यालय में करवा लेगा। इंट़ी करवाने के पश्चात उपयोगकर्ता आॅनलाइन टैक्स जमा करेगा।
बैठक में पर्यटन सचिव एवं महानिदेशक पर्यटन मनोज कुमार सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश में जितने पर्यटन स्थल हैं वहां देश और विदेश से आने वाले पर्यटकों के लिए विशेष सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं ताकि उन्हें पर्यटकीय यात्रा में कोई कठिनाई न हो। इस बैठक में अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटन के लिए विख्यात प्रदेश के नगरों में टुअर आपरेटर एवं ट्रेवल एजेंटों द्वारा उठाये गये मुद्दों को गम्भीरता से लेते हुए सचिव पर्यटन ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे इसका सम्मानजनक हल निकाला जाएगा। बैठक में प्रमुख सचिव, परिवहन बी.एस. भुल्लर, के अलावा परिवहन सचिव आलोक कुमार,पर्यटन सचिव एवं महानिदेशक मनोज कुमार सिंह, टुअर आपरेटर तथा ट्रेवल एजेंट  एसोसिएशन के पदाधिकारी तथा परिवहन एवं पर्यटन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थेे।

This entry was posted in Information. Bookmark the permalink.

3 Responses to उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों के व्यावसायिक वाहनों के लिए आॅन लाइन टैक्स जमा करने की सुविधा

  1. dheeraj says:

    ON LINE ROAD TAX PID

  2. dheeraj says:

    JHANSI RTO ON LINE ROADTAX PAID

  3. umeshsachan says:

    what website tax kanpur rto

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>